World Around Us

हम बचपन से सुनते आ रहे, “ये दुनिया बहुत बुरी है” लेकिन ये सवाल भी तब से ही दिमाग में ट्रिंग ट्रिंग कर रहा है की बुर कौन। कबीर कहता है “बुरा जो देखन मैं चला बुरा न मिल्या कोय, जो मन देखो आपना मुझ्सो बुरा न कोय।”

लेकिन मेरा मानना है की कोई बुरा नहीं ।ये दुनिया सिर्फ अच्छे लोगों से भरी है। डरे हुए अच्छे लोग। हर कोई किसी न किसी से डरा हुआ है। नौकरी, छोकरी … जवानी, बुढ़ापा आदि आदि। ये सब चीजें इंसान को डरती हैं। डरा हुआ इन्सान नपुंसक हो जाता है। और बाकी का हाल तो सब जानते हैं।

तो दोस्तों आज क बाद कोई बुरा करता हुआ हुआ दिखे तो उसपे दया करना और कहना “कितना डरपोक है ये।”

अंत में “my thoughts are governed by action….. I m just a ripple in great universe….. bear me . Share me.. I m happiness”

Advertisements

About wordsnbullets

I m like water with powers of Leo.....
This entry was posted in Words. Bookmark the permalink.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s